बाबूलाल से बातचीत

बाबूलाल से बातचीत

परंपरागत राजनीति से इतर युवाओं को साथ लाने का कैंपेन। भारत जैसे देश में लोकतांत्रिक उद्देश्यों को पूरा करने के लिए गत 70 वर्षों में जिस राजनीतिक तरीकों से युवाओं को भागीदार बनाने का प्रयास किया गया है जो इस बदलते सामाजिक एवं राजनीतिक परिवेश पर खरा नहीं उतर पा रहा है। युवाओं को ऐसा संस्थागत ढांचा नहीं मिल पा रहा है जिससे वह अपने वैचारिक एवं तार्किक प्रश्नों का उत्तर ढूंढ सकें। 


लेकिन अब राजनीति के परंपरागत तरीके से उपर उठकर बाबूलाल जी करने जा रहे हैं युवाओं से संवाद, एक नए रूप और नए तरीके से। अब युवा वर्ग को अपने सारे तार्किक एवं प्रबल प्रश्नों का उत्तर मिल जाएगा। जिससे युवा “बाबूलाल की बातचीत’ कैंपेन में हिस्सा लेकर ढूंढ पाएगा अपनी सारी समस्याओं का समाधान। यह कार्यक्रम लोगों की आकांक्षाओं में खड़ा खासकर युवाओं को साथ लाने में एक प्रबल तरीका साबित हो सकता है। झारखण्ड में ऐसी बातचीत की भी मांग जो अब हो रही है पुरा झारखण्ड जैसे राज्यों में पहली बार हो रहा है इस तरीकों से युवा से मार्गदर्शन एवं राज्य की उज्जवल भविष्य की कामना। इस कार्यक्रम से जुड़ने वाले है झारखण्ड के विभिन्न जिलों से प्रखण्ड से दूर दराज गाँव से आएं अपने उम्मीद लेकर युवाओं जिन्होंने चाहा है मेरा सपनों का हो ऐसा झारखण्ड युवा वर्ग बनाएंगे प्रबल एवं सबल झारखण्ड।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *